ख़बरेंचंदौलीराज्य/जिला

पुलिस की छापेमारी में पकड़े गए जुआरियों में एक निकला कोरोना पाजिटिव, मचा हड़कंप

चंदौली। मुगलसराय और अलीनगर पुलिस ने बीते मंगलवार की रात मुगलसराय के गल्लामंडी में गुपचुप तरीके से छापेमारी कर 16 लोगों को जुआ खेलते रंगेहाथ पकड़ा था। जुआरियों में मुगलसराय के रसूखदार व्यापारी शामिल थे। जिस मकान में फड़ बिछी थी वह आशीष जायसवाल का था। पकड़े जाने के बाद सभी मुंह छिपाते नजर आए। रात भर हवालात में रहने के बाद चेहरे से शराफत का नकाब उतर गया। पीपी सेंटर में सबका कोविड टेस्ट कराया गया। एक जुआरी की जांच रिेपार्ट पाजिटिव आई है। इससे जुआरियों और पुलिसकर्मियों में हड़कंप मचा हुुआ है। छापेमारी में शामिल अधिकांश पुलिसकर्मियों ने मास्क नहीं पहना था। हैरतअंगेज यह कि आरोपित के कोरोना पाजिटिव मिलने के बाद भी पुलिसकर्मियों ने अपनी जांच नहीं कराई है।

यह भी पढ़ेंः बाहुबली एमएलसी ब्रजेश सिंह की जेल से निकलने की मंशा पर फिरा पानी, लगा जोर का झटका

सीओ सदर केपी सिंह के नेतृत्व में मुगलसराय और अलीनगर पुलिस ने बीते मंगलवार की रात नगर के गल्लामंडी में एक मकान में छापेमारी कर 16 लोगों को जुआ खेलते पकड़ा। मौके से सात लाख रुपये भी बरामद हुए। पकड़े गए जुआरियों में आशीष जायसवाल, नीरज अग्रहरि उर्फ मल्लू, राजेंद्र चाौहान, राजू चाौहान, विनोद जायसवाल, इस्लामपुर का जाहिद जमां, कालीमहाल निवासी कुणाल सोनी, रविनगर निवासी रघुवीर सिंह, मैनाताली निवासी राजेश जायसवाल, सर्कस रोड निवासी शेख नरुल्ला, कालीमहाल निवासी विक्की, दिनेश जायसवाल, मनोज कुमार, विरेंद्र खरवार, रविनगर निवासी जितेंद्र कुमार उर्फ विक्की, कसाब महाल निवासी समीर शामिल रहे। इसी में से एक जुआरी की कोरोना रिपोर्ट पाजिटिव आई है, जो छापेमारी में शामिल पुलिसकर्मियों और अन्य जुआरियों के लिए खतरे की घंटी है।

यह भी पढ़ेंः कर्मचारी का गंभीर आरोप एडीएम देते हैं धारा प्रवाह गाली मुझे नहीं करना काम, लिखा पत्र

Leave a Reply

Back to top button
error: Content is protected !!