संस्कृति एवं ज्योतिष

Karwa Chauth Vrat 2023: अखंड सौभाग्य के लिए आज कैसे रखें करवा चौथ का निर्जला व्रत, जानें पूरी विधि

पंचांग के अनुसार आज कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि है और इस पावन तिथि को हिंदू धर्म में करवा चौथ या फिर करक चतुर्थी के नाम से जाना जाता है। आज के दिन सुहागिन महिलाएं अपने पति की लंबी आयु और सुख-सौभाग्य की कामना लिए पूरे दिन निर्जला व्रत रखती हैं और शाम को चंद्रोदय के समय चंद्रमा की पूजा करने बाद इस व्रत को खोलती हैं। हिंदू मान्यता के अनुसार इस दिन करवा माता के साथ भगवान शिव, माता पार्वती, भगवान गणेश और भगवान कार्तिकेय की पूजा की जाती है। आइए जानते हैं कि आज कब और किस विधि से इस व्रत करने पर पुण्यफल की प्राप्ति होगी।

करवा चौथ की पूजा का शुभ मुहूर्त
पंचांग के अनुसार जिस कार्तिक मास की चतुर्थी तिथि को करवा चौथ का व्रत मनाया जाता है वो 31 अक्टूबर 2023 को रात्रि 09:30 बजे से प्रारंभ होकर 01 नवंबर 2023 की रात 09:19 बजे तक रहेगी। आज करवा चौथ व्रत की पूजा के लिए सबसे उत्तम मुहूर्त शाम को 05:36 बजे से लेकर 06:54 बजे तक रहेगा। जबकि आज देश की राजधानी दिल्ली में चंद्रोदय का समय शाम 08:15 बजे रहेगा।

कैसे करें करवा चौथ व्रत की पूजा
करवा चौथ के दिन महिलाओं को तन-मन से पवित्र होकर सुबह सूर्यदेव को अर्घ्य देना चाहिए और उसके बाद करवा चौथ व्रत का पुण्यफल पाने के लिए इसे विधि-विधान से करने का संकल्प लेना चाहिये। फिर पूरे दिन बगैर कुछ खाए-पिए पूरे दिन व्रत रहना चाहिए और शाम को शुभ मुहूर्त में अच्छे से श्रृंगार करके घर के ईशान कोण में करवा माता का कैलेंडर लगाकर उनकी विधि-विधान से पूजा करना चाहिए।

Back to top button
error: Content is protected !!