fbpx
ख़बरेंचंदौलीराज्य/जिला

इंडियन बैंक के लाकधारकों ने शुरू की आर-पार की लड़ाई, बैंक में की तालाबंदी, मची खलबली

चंदौली। मुख्यालय स्थित इंडियन बैंक शाखा में लाकर काटकर करोड़ों की चोरी की घटना के 13 दिन बाद भी पुलिस के हाथ खाली है। वहीं बैंक प्रबंधन ने भी लाकरधारकों की मदद के लिए कोई पहल नहीं की। इससे नाराज लाकरधारक सोमवार को बैंक शाखा में तालाबंदी कर धरने पर बैठ गए। इससे खलबली मची है।

31 जनवरी की रात खिड़की काटकर बैंक के अंदर दाखिल हुए चोरों ने गैस कटर से 40 लाकर काट दिए। इनके अंदर ऱखे करोड़ों रुपये मूल्य के सोने के आभूषण लेकर चंपत हो गए। बैंक के सीसीटीवी कैमरे में चोर कैद हो गए थे। इससे उम्मीद जताई जा रही थी कि पुलिस उन्हें पकड़ लेगी, लेकिन एक पखवारे का समय बीतने को है, अभी तक पुलिस शातिर चोरों का सुराग तक नहीं लगा सकी है। इससे लाकरधारक खुद को ठगा महसूस कर रहे हैं। पुलिस अधिकारियों व लाकरधारकों की पिछले दिनों वार्ता हुई थी। पुलिस ने जल्द मामले का खुलासा करने का आश्वासन दिया था। हालांकि अभी तक चोरों का कुछ अता-पता नहीं चला। इससे लाकरधारकों का धैर्य जवाब दे गया और सोमवार को बैंक शाखा के गेट पर तालाबंदी कर धरने पर बैठ गए। उनका कहना रहा कि बैंक प्रबंधन व पुलिस सिर्फ आश्वासन दे रही है। कप्तान से मिलने जाइए तो एएसपी के पास भेज दिया जाता है। वहीं बैंक वाले सिर्फ अधिकारियों से बात कराने का आश्वासन दे रहे हैं। इसको लेकर कोई ठोस पहल नहीं की जा रही है।

क्राइम ब्रांच व एसटीएफ भी खंगाल रही सुराग
जिले की सबसे बड़ी चोरी की घटना को अंजाम देने वाले चोरों का पता लगाने के लिए क्राइम ब्रांच व एसटीएफ भी लगी है। हालांकि अभी तक बैंक चोरों का सुराग नहीं लगा सकी है। बैंक चोरों का गिरोह बाहरी होने की बात सामने आई है। ऐसे में पुलिस उनके संभावित ठिकानों पर छापेमारी कर रही है।

On The Spot

खबरों के लिए केवल पूर्वांचल टाइम्स, अफवाहों के लिए कोई भी। हम पुष्ट खबरों को आप तक पहुंचाने के लिए संकल्पिक हैं।

Related Articles

Back to top button