fbpx
चंदौलीराजनीतिराज्य/जिला

चंदौली में चक्काजाम बेअसर, सुरक्षा चाक-चाौबंद, सपा नेता नजरबंद

चंदौली। कृषि कानून के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसान संगठनों के शनिवार को देशव्यापी चक्काजाम की घोषणा का कृषि प्रधान चंदौली जिले में कोई असर देखने को नहीं मिला। हालांकि पुलिस और प्रशासनिक अमला पूरी तरह से मुस्तैद है। जिला मुख्यालय से लेकर प्रमुख कस्बों में तिराहों पर पुलिस और पीएसी बल की तैनाती की गई है। हालांकि सुरक्षाकर्मियों को मशक्कत नहीं करनी पड़ी। कुछ जुझारू सपा नेताओं को नजरबंद किया गया है।


किसान संगठनों ने शनिवार को मध्यान्ह 12 से तीन बजे तक यानी तीन घंटे चक्काजाम का आह्वान किया है। इसे लेकर जिले के प्रमुख कस्बों और चट्टी चाौराहों पर सुरक्षा के व्यापक बंदोबस्त किए गए हैं। दंगा रोधी उपकरणों से लैस पुलिस और पीएसी के जवानों को तैनात किया गया है। जिला मुख्यालय, सकलडीहा-अलीनगर तिराहा, सैयदराजा, सकलडीहा, चकिया आदि स्थानों पर व्यापक सुरक्षा व्यवस्था की गई है ताकि किसी तरह की अशांति न फैलने पाए। आंदोलन के मद्देनजर कुछ सपा नेताओं को नजरबंद किया गया तो कुछ के घर जाकर पुलिस ने चेतावनी दी कि चक्काजाम का प्रयास न करें और पुलिस का सहयोग करें। पिछले आंदोलन में पुलिस के पसीने छुड़ाने वाले सपा के पूर्व जिलाध्यक्ष बलिराम यादव को उनके आवास पर ही नजरबंद कर लिया गया। बलिराम यादव ने कहा कि सपाई किसानों का समर्थन करते रहेंगे। लेकिन शीर्ष नेतृत्व के आहृवान पर ही किसी तरह के आंदोलन की रूपरेखा तैयार की जाएगी। राष्ट्रीय अध्यक्ष का आहृवान हो गया तो सपाइयों को पुलिस रोक नहीं सकेगी।

On The Spot

खबरों के लिए केवल पूर्वांचल टाइम्स, अफवाहों के लिए कोई भी। हम पुष्ट खबरों को आप तक पहुंचाने के लिए संकल्पिक हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button