Life styleहेल्थ

Health : बीपी लो होने से चक्कर क्यों आता है? समझ लें इसका साइंस और तुरंत करें ये 2 काम

बीपी लो होने पर अक्सर लोग बेचैनी, चक्कर आना और सिर दर्द जैसे तमाम प्रकारों के लक्षणों की शिकायत करते हैं। लेकिन, कभी सोचा है कि बीपी से इनका कनेक्शन कैसे है। आखिरकार ब्लड प्रेशर लो हो जाने पर ऐसा क्या होता है कि शरीर में ये गतिविधियां लक्षणों के रूप में सामने आने लगते हैं। इसके बाद अगला सवाल ये होता है कि इसके बाद करें क्या और किन बातों का ख्याल रखें कि ये आसानी से कंट्रोल हो जाए। पर सबसे पहले जानते हैं बीपी लो क्यों होता है और इसके बाद आपको चक्कर क्यों आते हैं। जानते हैं इन तमाम चीजों के बारे में विस्तार से।

बीपी लो होने से चक्कर क्यों आता है
बीपी की जब भी बात आती है तो आपने इसकी रीडिंग हमेशा दो संख्याओं के रूप में देखा होगा। ऊपर सिस्टोलिक प्रेशर की संख्या दिखती है जो कि धमनियों में प्रेशर का माप है जब हृदय धड़कता है और उनमें खून भर जाता है। निचली संख्या डायस्टोलिक प्रेशर को मापती है, जब हृदय धड़कनों के बीच आराम करता है तो धमनियों में दबाव होता है। नॉर्मल बीपी 90/60 mmHg और 120/80 mmHg के बीच में होता है। लेकिन, जब इससे कम हो तो बीपी लो माना जाता है।

ब्लड प्रेशर कम होने पर शरीर के महत्वपूर्ण अंगों को पर्याप्त ऑक्सीजन और पोषक तत्व नहीं मिल पाते हैं। जब ऐसा होता है, तो लो ब्लड प्रेशर के कारण शरीर को झटका लग सकता है। ऐसे में जब आपके मस्तिष्क को पर्याप्त खून की आपूर्ति नहीं होती है तो आपको चक्कर आते हैं जिसे पोस्टुरल हाइपोटेंशन कहा जाता है।

बीपी लो हो जाए चक्कर आए तो क्या करें

तुरंत नमक का पानी पिलाएं
बीपी अगर लो हो जाए और बार-बार चक्कर आने लगे तो नमक का घोल बनाएं और उस व्यक्ति को पिला दें। दरअसल, नमक में सोडियम होता है जो कि ब्रेन एक्टिविटी को तेज करने के साथ, ब्लड प्रेशर बढ़ाती है और खून को पंप करने की गति को तेज कर देती है। बाद में आप इसमें चीनी और नमक मिलाकर भी ले सकते हैं।

गर्म दूध या कॉफी पिलाएं
बीपी तुरंत बढ़ाने में गर्म दूध और कॉफी काफी तेजी से काम करते हैं। दरअसल, दूध के मल्टीन्यूट्रीएंट्स बीपी बैलेंस करने में मदद करते हैं तो, कॉफी का कैफिन लो बीपी को तुंरत बढ़ाने में मदद करता है। तो, अगर आपको भी लो बीपी के कारण चक्कन आने लगे तो आप इन दो चीजों को फॉलो कर सकते हैं। इसके अलावा ढंग से पानी पिएं और खाना खाएं। क्योंकि एनर्जी और हाइड्रेशन की कमी भी लो बीपी का कारण बनती है।

Back to top button
error: Content is protected !!