fbpx
ख़बरेंचंदौलीराज्य/जिला

पंचायत चुनावों की मिली सुगबुगाहट, राज्य निर्वाचन आयोग से गाइड लाइन जारी

चंदौली/मीरजापुर। गंवई राजनीति गरमाते-गरमाते रह गई। कोरोना ने प्रधानी, क्षेत्र पंचायत और जिला पंचायत सदस्य का चुनाव लड़ने वालों के इंतजार की घड़ी बढ़ा दी है। भावी प्रत्याशी इसी ताक में है कि चुनाव को लेकर कोई खबर मिले। ऐसे में राज्य निर्वाचन आयोग ने त्रिस्तरीय पंचायतों की निर्वाचक नामावली के वृहद पुनरीक्षण का कार्यक्रम जारी कर चुनावों की सुगबुगाहट को हवा दे दी है।
ये है पुनरीक्षण कार्यक्रम

किसी ग्राम पंचायत के आंशिक भाग के अन्य ग्राम पंचायत या नगरीय निकाय में समाहित होने की स्थिति में विलोपन की कार्यवाही 15 से 30 सितंबर तक चलेगी। बीएलओ द्वारा घर-घर जाकर गणना और सर्वेक्षण करने की अवधि एक अक्तूबर से 12 नवंबर तय की गई है। आनलाइन आवेदन अवधि एक अक्तूबर से पांच नवंबर, आनलाइन प्राप्त आवेदन पत्रों की घर-घर जाकर जांच करने की अवधि छह नवंबर से 12 नवंबर, ड्राफ्ट नामावलियों की कंप्यूटरीकृत पांडुलिपी तैयार करना 13 नवंबर से पांच दिसंबर, ड्राफ्ट मतदाता सूची का प्रकाशन छह दिसंबर तक, ड्राफ्ट के रूप में प्रकाशित निर्वाचक नामावली का निरीक्षण छह से 12 दिसंबर, दावे और आपत्तियां प्राप्त करना छह से 12 दिसंबर, दावे और आपत्तियों का निस्तारण 13 से 19 दिसंबर, पाडुलिपियों की तैयारी और उन्हें मूल सूची में यथा स्थान समाहित करने की कार्यवाही 20 से 28 दिसंबर, निर्वाचक नामावलियों का जनसामान्य के लिए अंतिम प्रकाशन 29 दिसंबर 2020 तय की गई है। यह गाइड लाइन राज्य निर्वाचन आयुक्त उत्तर प्रदेश मनोज कुमार की ओर से जारी की गई है।

On The Spot

खबरों के लिए केवल पूर्वांचल टाइम्स, अफवाहों के लिए कोई भी। हम पुष्ट खबरों को आप तक पहुंचाने के लिए संकल्पिक हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button