fbpx
weatherचंदौली

Chandauli Weather : फिर आग बरसाने लगा आसमान, 45 के पार जा सकता है तापमान, मौसम विभाग ने जारी किया लू का अलर्ट

तीन-चार दिनों से तीखी धूप व लू ने बढ़ाई गर्मी, इस सप्ताह राहत के आसार नहीं पुरवा हवा नहीं चली तो लेट हो सकता है मानसून, पूरे जून झेलनी पड़ सकती है गर्मी चुनाव में भीषण गर्मी ने कर दिया था बेहाल, तीन दिन राहत के बाद मौसम हुआ तल्ख

चंदौली, भीषण गर्मी, लू का अलर्ट
  • तीन-चार दिनों से तीखी धूप व लू ने बढ़ाई गर्मी, इस सप्ताह राहत के आसार नहीं पुरवा हवा नहीं चली तो लेट हो सकता है मानसून, पूरे जून झेलनी पड़ सकती है गर्मी चुनाव में भीषण गर्मी ने कर दिया था बेहाल, तीन दिन राहत के बाद मौसम हुआ तल्ख
  • तीन-चार दिनों से तीखी धूप व लू ने बढ़ाई गर्मी, इस सप्ताह राहत के आसार नहीं
  • पुरवा हवा नहीं चली तो लेट हो सकता है मानसून, पूरे जून झेलनी पड़ सकती है गर्मी
  • चुनाव में भीषण गर्मी ने कर दिया था बेहाल, तीन दिन राहत के बाद मौसम हुआ तल्ख

 

चंदौली। तीखी धूप व लू के थपेड़े फिर लोगों को बेहाल करने लगे हैं। चुनावी दौर में भीषण गर्मी से त्राहि-त्राहि मची थी। दो-तीन दिन मामूली राहत के बाद मौसम फिर तल्ख हो गया। तीखी धूप के चलते तापमान 45 डिग्री के करीब पहुंच गया। मौसम विभाग ने लू का अलर्ट जारी किया है। मौसम विशेषज्ञों की मानें तो इस सप्ताह गर्मी से बहुत राहत के आसार नहीं है। वहीं पछुआ हवा का प्रकोप कम नहीं हुआ तो मानसून भी लेट हो सकता है।

 

जून के शुरूआती दो-तीन दिनों तक आसमान में बादलों की सक्रियता रही। इसके चलते धूप का असर थोड़ा कम हुआ और तापमान नीचे लुढ़कर 40 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया था। उस दौरान उमस के बावजूद लोगों को तपिश से थोड़ी राहत मिली थी। उम्मीद जताई जा रही थी कि प्री मानसून जैसी स्थिति बनेगी और बारिश होगी, लेकिन बादल बिन बारिश ही लौट गए। इसके बाद सूर्य देव ने आंखें तरेर लीं। पिछले चार-पांच दिनों से तीखी धूप हो रही है। वहीं पछुआ हवा का प्रकोप भी बढ़ गया है। इसकी वजह से लू का असर भी है। इससे तापमान 44 डिग्री के पार पहुंच चुका है। मौसम विशेषज्ञों की मानें तो यदि ऐसी ही स्थिति रही तो इस सप्ताह तापमान 45-46 डिग्री के पार जा सकता है। ऐसे में लोगों को खास सावधानी बरतने की जरूरत है।

 

मौसम विशेषज्ञों के अनुसार मानसून अभी बिहार सीमा के आसपास अटका हुआ है। पछुआ के प्रकोप के चलते आगे नहीं बढ़ पा रहा। इसके 20 जून तक देवरिया के रास्ते पूर्वांचल में दस्तक देने की उम्मीद है। हालांकि यदि पुरवा हवा नहीं चली तो मानसून लेट हो सकता है। ऐसे में लोगों को पूरे माह भीषण गर्मी झेलनी पड़ सकती है।

 

Back to top button
error: Content is protected !!