fbpx
क्राइमचंदौलीराज्य/जिला

चंदौलीः पुलिस के लिए चुनौती बने आस्तीन में छिपे सांप, बर्खास्त सिपाही निकला सरगना तो जौनपुर में तैनात सिपाही चला रहा गैंग, पूर्वांचल टाइम्स का चौंकाने वाला खुलासा

जय तिवारी

चंदौली। आस्तीन में छिपे सांप पुलिस विभाग के लिए चुनौती बनते जा रहे हैं। बर्खास्त आरक्षी अनिल सिंह पशु तस्करों के गिरोह का सरगना निकला, तो जौनपुर में तैनात एक और पुलिसकर्मी इटावा से गैंग को आपरेट कर रहा है, जिसका नाम तफ्तीश में सामने आ रहा है। पशु तस्करों का नेटवर्क कोलकाता से लेकर समूचे पूर्वांचल तक फैला है। जिसमें कई खाकी और खादीधारी भी शामिल हैं। पुलिस में अच्छी खासी पैठ का फायदा उठाकर पशुओं को बिहार के रास्ते बंगाल भेजते हैं। हालांकि पुलिस धीरे-धीरे ही सही लेकिन पशु तस्करों के नेटवर्क को ध्वस्त कर रही है।

पुलिस की गिरफ्त में बर्खास्त आरक्षी अनिल सिंह

पुलिस विभाग से जुड़े विश्वस्त सूत्रों की माने तो तकरीबन 50 भ्रष्ट पुलिसकर्मी पशु तस्करी के ध्ंाधे से प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से जुड़े हैं। जौनपुर में तैनात आदित्य राय नाम का पुलिसकर्मी इटावा से इस गैंग को आपरेट करता है। इसका मुख्य काम थानों में तैनात कारखासों से मिलकर पशुओं के वाहनों को पास कराना है। इटावा से लेकर प्रयागराज तक वाहनों को पास कराने की जिम्मेदारी पुलिसकर्मी आदित्य राय की होती है जबकि प्रयागराज से बिहार बार्डर तक वाहनों को पहुंचाने काम बर्खास्त सिपाही अनिल सिंह देखता था। पुलिस विभाग आस्तीन में छिपे सांपों को चिन्हित कर कड़ी कार्रवाई का मन बना चुका है।

बर्खास्त आरक्षी अनिल सिंह पर और कसेगा शिकंजा
पुलिस के हत्थे चढ़े बर्खास्त सिपाही अनिल सिंह पर अब कानून का शिकंजा कायदे से कसेगा। गैंगेस्टर एक्ट सहित अन्य धाराओं में मुकदमा पंजीकृत करने से साथ कुर्की भी भी कार्रवाई तय मानी जा रही है।

On The Spot

खबरों के लिए केवल पूर्वांचल टाइम्स, अफवाहों के लिए कोई भी। हम पुष्ट खबरों को आप तक पहुंचाने के लिए संकल्पिक हैं।

Related Articles

Back to top button