fbpx
क्राइमचंदौली

Chandauli News : चंदौली के शिक्षक की गोली मारकर हत्या, तंबाकू न देने पर सिपाही ने गोलियों से भून डाला

चंदौली। जिले के रामगढ़ बैराठ निवासी शिक्षक धर्मेंद्र कुमार सिंह की मुजफ्फरनगर में गोली मारकर हत्या कर दी गई। साथ गए सिपाही ने ही घटना को अंजाम दिया। तंबाकू न देने पर सिपाही ने कारबाइन से शिक्षक पर फायर झोंक दिया। इससे उनकी मौत हो गई। सूचना के बाद पहुंची स्थानीय पुलिस घटना की छानबीन में जुटी रही।

 

शिक्षक धर्मेंद्र कुमार, संतोष कुमार दो चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों जितेंद्र मौर्या और कृष्ण प्रताप के साथ वाहन से यूपी बोर्ड की कापियां प्रदेश के विभिन्न जिलों में जमा कराने के लिए वाराणसी से 14 मार्च को निकले थे। उनके साथ गारद के तौर पर उपनिरीक्षक नागेंद्र चौहान व मुख्य आरक्षी चंद्रप्रकाश को भेजा गया था। रास्ते में प्रयागराज, शाहजहांपुर, पीलीभीत, मुरादाबाद, बिजनौर में कापियां जमा कराते हुए 17 की रात मुजफ्फरनगर पहुंचे थे। कापियां एसडी इंटर कालेज में जमा करानी थी, लेकिन रात में कालेज का गेट बंद होने पर गाड़ी बाहर लगाकर रुके थे। मुख्य आरक्षी बार-बार तंबाकू मांग रहा था और किसी को आराम नहीं करने दे रहा था। इस पर धर्मेंद्र कुमार ने आपत्ति की तो उसने कारबाइन से उनके ऊपर फायर झोंक दिया। नशे में धुत सिपाही ने कारबाइन की पूरी मैगजीन शिक्षक पर खाली कर दी। उन्हें कई गोलियां लगीं। इसकी सूचना मुजफ्फरनगर सिविल लाइन थाने को दी गई। सूचना के बाद पुलिस उच्चाधिकारी भी मौके पर पहुंचे। घायल शिक्षक को तत्काल अस्पताल पहुंचाया गया। वहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने मुख्य आरक्षी को हिरासत में ले लिया। वहीं साथ गए गारद के पुलिसकर्मियों के हथियार अपने कब्जे में ले लिए। घटनास्थल से साक्ष्य संकलन किया जा रहा है। पुलिस परिजनों को घटना की जानकारी देने के साथ ही विधिक कार्रवाई में जुटी रही। पुलिस का कहना रहा कि परिजनों की तहरीर के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

 

 

Back to top button
error: Content is protected !!