fbpx
क्राइमचंदौली

Chandauli News : वारंटी को पकड़ने गए चौकी प्रभारी व सिपाही को ग्रामीणों ने बनाया बंधक, हाथापाई भी हुई

बलुआ थाना के मथेला गांव में एनडब्ल्यू को पकड़ने गए थे कैलावर चौकी इंचार्ज गांव के बीडीसी राकेश कुमार पर के खिलाफ जारी हुआ था एनबीडब्लू ग्रामीणों ने जमीन पर बिखेर दिए रुपये, जमकर किया हंगामा

चंदौली, पुलिस, बलुआ थाना, कैलावर चौकी इंचार्ज, बंधक
  • बलुआ थाना के मथेला गांव में एनडब्ल्यू को पकड़ने गए थे कैलावर चौकी इंचार्ज गांव के बीडीसी राकेश कुमार पर के खिलाफ जारी हुआ था एनबीडब्लू ग्रामीणों ने जमीन पर बिखेर दिए रुपये, जमकर किया हंगामा
  • बलुआ थाना के मथेला गांव में एनडब्ल्यू को पकड़ने गए थे कैलावर चौकी इंचार्ज
  • गांव के बीडीसी राकेश कुमार  के खिलाफ जारी हुआ था एनबीडब्लू
  • ग्रामीणों ने जमीन पर बिखेर दिए रुपये, जमकर किया हंगामा

 

चंदौली। बलुआ थाना के मथेला गांव में एनबीडब्ल्यू को पकड़ने गए कैलावर चौकी इंचार्ज अनिल कुमार यादव और सिपाही को ग्रामीणों ने बंधक बना लिया। ग्रामीणों ने जमीन पर रुपये बिखेर दिए। वहीं जमकर हंगामा किया। इस दौरान पुलिस से हाथापाई भी हुई। इससे पुलिस बैकफुट पर नजर आई। वहीं ग्रामीणों का आरोप था कि वारंटी को पकड़ने पहुंचे पुलिसकर्मियों ने दुकान के गल्ले में हाथ डालकर पैसे निकालने की कोशिश की। मामला उच्चाधिकारियों तक पहुंचने के बाद महकमे में खलबली मची है।

 

मथेला गांव के बीडीसी राकेश के खिलाफ बाट-माप विभाग का एनबीडब्ल्यू (गैर जमानती वारंट) जारी हुआ था। इस पर कैलावर चौकी प्रभारी अनिल कुमार यादव शनिवार को हमराही के साथ उसे पकड़ने के लिए पहुंचे। उस दौरान वारंटी तो नहीं मिला, लेकिन उसके भाई व अन्य ग्रामीणों ने जमकर बवाल कर दिया। छापेमारी के बाद चौकी प्रभारी और सिपाही वापस जा रहे थे लेकिन ग्रामीणों ने दौड़कर पकड़ लिया  चौकी प्रभारी व सिपाही को बंधक बना लिया। वहीं पुलिस के साथ हांथापाई की। जमीन पर रुपये बिखेर कर हंगामा शुरू कर दिया। इससे पुलिसकर्मी बैकफुट पर आ गए।

वहीं ग्रामीणों का आरोप रहा कि वारंटी के न मिलने पर पुलिसकर्मी दुकान के गल्ले में हांथ डालकर पैसे निकालने लगे। इससे लोग आक्रोशित हो गए और ऐसा वाकया हुआ। बलुआ थाना प्रभारी शैलेष पांडेय ने बताया कि पुलिस वारंटी को पकड़ने गई थी। वारंटी नहीं मिला, लेकिन उसके भाई व अन्य ने विरोध कर दिया और पुलिस से उलझ गए। इसको लेकर अधिकारियों से वार्ता कर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Back to top button
error: Content is protected !!