fbpx
क्राइमचंदौली

Chandauli News : पुजारी हत्याकांड का हुआ खुलासा, बहन से प्रेमप्रसंग के शक में भाई ने कर दी थी हत्या

युवक ने रस्सी से गला कसकर दिव्यांग को उसके ही घर में मार डाला मृतक के घर पिछले 12 साल से खाना बनाने जाती थी आरोपित की बहन दिव्यांगता व लगातार बीमार रहने के कारण नहीं हुई थी रंगनाथ की शादी

चंदौली, दिव्यांग की हत्या, हत्यारा गिरफ्तार
  • युवक ने रस्सी से गला कसकर दिव्यांग को उसके ही घर में मार डाला मृतक के घर पिछले 12 साल से खाना बनाने जाती थी आरोपित की बहन दिव्यांगता व लगातार बीमार रहने के कारण नहीं हुई थी रंगनाथ की शादी
  • युवक ने रस्सी से गला कसकर दिव्यांग को उसके ही घर में मार डाला
  • मृतक के घर पिछले 12 साल से खाना बनाने जाती थी आरोपित की बहन
  • दिव्यांगता व लगातार बीमार रहने के कारण नहीं हुई थी रंगनाथ की शादी

चंदौली। बहन से प्रेम प्रसंग के शक में मद्धूपुर गांव निवासी दिव्यांग रंगनाथ सेठ की एक दिन पहले हत्या हुई थी। पुलिस ने आरोपित को कटसिला से गिरफ्तार कर घटना का 24 घंटे के अंदर खुलासा कर दिया। मृतक के भाई की तहरीर पर पुलिस मुकदमा दर्ज कर छानबीन में जुटी थी। पुलिस आरोपित से पूछताछ के साथ ही उसके खिलाफ विधिक कार्रवाई में जुटी रही।

 

बुधवार को मृतक के भाई मद्धूपुर निवासी हाल पता गली नंबर बी 4, सुभाष नगर थाना ज्वालापुर हरिद्वार उत्तराखंड भोलानाथ सेठ ने सदर कोतवाली में तहरीर देकर बताया कि उनका छोटा भाई रंगनाथ सेठ गांव पर रहता था। दिव्यांग व बीमार रहने के कारण उसकी शादी नही हुई थी। खाना बनाने एवं घर का कार्य करने के लिए गांव की एक लड़की को करीब 12 वर्ष पहले से रखा गया था। लड़की के भाई रमाशंकर विश्वकर्मा को रंगनाथ व उसकी बहन पर प्रेम प्रसंग का शक था। इसको लेकर पहले भी झगड़ा हो चुका था। वहीं रमाशंकर ने 7 मई की शाम मेरे भाई की हत्या कर दी। पुलिस मुकदमा दर्जकर आरोपित की तलाश में जुटी थी।

 

सदर कोतवाल गगनराज सिंह को सूचना मिली कि हत्यारोपित जमुना इंटर कालेज कटसिला हाइवे के सामने दक्षिण पटरी सर्विस लेन के पास नहर पुलिया पर मौजूद है। कहीं भागने की फिराक में है। इस पर पुलिस एक्टिव हो गई और मौके पर पहुंचकर आरोपित को धर-दबोचा। पुलिस ने अनुसार आरोपित ने रंगनाथ सेठ की उसके ही घर में रस्सी से गला कसकर हत्या कर दी थी। वहीं गांव में ही छिपकर रह रहा है। गुरुवार को कहीं भागने की फिराक में था। इसी बीच पुलिस ने दबोच लिया।

Back to top button
error: Content is protected !!