fbpx
ख़बरेंचंदौलीराज्य/जिला

Chandauli khabar: डीडीयू जीआरपी में तैनात इंस्पेक्टर की मौत, दो दिन पहले ही बने थे पुत्री के पिता, सदमे में परिवार

सुल्तानपुर जनपद के अखंडनगर थाना क्षेत्र निवासी इंस्पेक्टर रामप्रवेश दो साल पहले जीआरपी दिलदारनगर चौकी के प्रभारी थे। प्रमोशन के बाद उनका स्थानांतरण कंट्रोल रूम प्रभारी के पद पर प्रयागराज हो गया। पिछले कुछ महीनों से जीआरपी डीडीयू में अतिरिक्त प्रभार देख रहे थे।
  • इंस्पेक्टर रामप्रवेश की शनिवार की रात ब्रेन हेमरेज से मौत
  • तबीयत ज्यादा खराब होने पर छुट्टी लेकर गोरखपुर चल गए थे
  • दो दिन पहले ही एक पुत्री के पिता बने थे
  • कुछ वर्षों से हृदय संबंधी गंभीर बीमारी से जूझ रहे थे

चंदौली। डीडीयू जीआरपी में तैनात 35 वर्षीय इंस्पेक्टर रामप्रवेश की शनिवार की रात ब्रेन हेमरेज से मौत हो गई। इंस्पेक्टर पिछले कुछ दिनों से चिकित्सकीय अवकाश पर थे। गोरखपुर स्थित सरकारी आवास में ही गश खाकर गिर पड़े आनन-फानन में मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां इलाज के दौरान ही उनकी मौत हो गई। घटना से परिवार सदमे में है। दो दिन पहले ही एक पुत्री के पिता बने थे।

 

सुल्तानपुर जनपद के अखंडनगर थाना क्षेत्र निवासी इंस्पेक्टर रामप्रवेश दो साल पहले जीआरपी दिलदारनगर चौकी के प्रभारी थे। प्रमोशन के बाद उनका स्थानांतरण कंट्रोल रूम प्रभारी के पद पर प्रयागराज हो गया। पिछले कुछ महीनों से जीआरपी डीडीयू में अतिरिक्त प्रभार देख रहे थे। कुछ वर्षों से हृदय संबंधी गंभीर बीमारी से जूझ रहे थे। मुगलसराय आईपी माल के पीछे किराए का कमरा लेकर रहते थे। तबीयत ज्यादा खराब होने पर छुट्टी लेकर गोरखपुर चल गए थे जहां सरकारी आवास में रहकर अपना इलाज करा रहे थे। बताया जाता है कि शनिवार की रात अचानक गश खाकर गिर पड़े। उन्हें लखनऊ के पीजीआई में भर्ती कराया गया जहां चिकित्सकों ने उन्हें अन्यत्र रेफर कर दिया। मेदांता में इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई। मृतक को दो पुत्रियां और एक पुत्र है। दो दिन पहले ही एक पुत्री के पिता बने थे लेकिन परिवार की यह खुशी जल्द ही काफूर हो गई।

Back to top button
error: Content is protected !!