fbpx
क्राइमचंदौलीराज्य/जिला

चंदौलीः वन दारोगा और कर्मचारियों पर शिकारियों ने किया हमला, तीन घायल

चंदौली। मनबढ़ शिकारियों ने रविवार को तड़के वन दरोगा सहित तीन वन कर्मियों पर हमला बोल दिया। वन दरोगा केशव सिंह, वनरक्षक सियाराम व जसवंत सिंह घायल हो गए। जबकि हमलावर अंधेरे का लाभ उठाते हुए जंगल में गायब हो गए। दरअसल जंगली सुअर का शिकार कर ले जा रहे शिकारियों को पकड़ने के लिए वनकर्मियों ने घेराबंदी की तो शिकारी हमलावर हो उठे। आरोप है कि वन कर्मी शिकारियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने शहाबगंज थाने पहुंचे तो चकिया क्षेत्र का मामला बताकर पुलिस ने टाल दिया।
वन रेंज के सपही बीट से जंगली सुअर मारकर साइकिल से ले जा रहे शिकारियों को वन विभाग की टीम ने रविवार की भोर में घेर लिया। खुद को घिरा देख शिकारी वन कर्मियों पर टूट पड़े। संख्या में अधिक होने के कारण वन विभाग की टीम पर भारी पड़े। दरअसल मुखबिर की सूचना पर सपही जंगल से मुख्य मार्ग पर आने वाले रास्ते पर वन कर्मियों ने घेराबंदी कर शिकारियों को पकड़ लिया। पर शिकारी तीन वन कर्मियो को मारपीट कर जंगल के रास्ते फरार हो गए। हमले में दरोगा केशव सिंह, वनरक्षक जसवंत और सियाराम घायल हो गए। हालांकि वन कर्मियों ने शिकारियों की साइकिल व जंगली मृत सुअर को बरामद कर लिया। पोस्टमार्टम कराने के बाद सुअर को जंगल में दफन कर दिया गया। विभागीय उच्चाधिकारियों के निर्देश पर वनरक्षक सियाराम तहरीर लेकर शहाबगंज थाने पर पहुंचे तो मामला चकिया थाना क्षेत्र का होने को बता कर टाल दिया। इस बाबत वन क्षेत्राधिकारी एबी सिंह ने बताया कि शिकारियों की पहचान कर ली गई है। पुलिस क्षेत्राधिकारी चकिया सर्किल को अवगत कराते हुए वन अधिनियम के तहत चार शिकारियों के खिलाफ तहरीर दी गई है।

On The Spot

खबरों के लिए केवल पूर्वांचल टाइम्स, अफवाहों के लिए कोई भी। हम पुष्ट खबरों को आप तक पहुंचाने के लिए संकल्पिक हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button