fbpx
ख़बरेंचंदौलीराज्य/जिला

चंदौली एडीएम ने कमिश्नर से लगाई गुहार, बेघर कर रहे बनारस डीएम

चंदौली। एडीएम न्यायिक अनिल कुमार त्रिपाठी इन दिनों खुद के लिए न्याय की गुहार लगा रहे हैं। उनका आरोप है कि बनारस डीएम उन्हें बेघर करने पर आमादा है। बनारस डीएम कंपाउंड स्थित आवास संख्या बी-6 खाली करने का दबाव बनाया जा रहा है। जबकि कमिश्नर वाराणसी मंडल ने चंदौली में आवास की अनुपलब्धता और बीमारी को देखते हुए उनके पक्ष में सहानुभूति पूर्वक विचार करने का निर्देश दिया है।

ये है पूरा मामला
वाराणसी में तैनात अपर जिलाधिकारी का एडीएम न्यायिक पद पर कुछ माह पूर्व चंदौली में तबादला हो गया। एडीएम को चंदौली में आवास आवंटित नहीं हुआ वे अभी भी डीएम कंपाउंड स्थिति सरकारी आवास में ही रह रहे हैं। एडीएम का तर्क है कि उन्हें बीमारी है और वाराणसी में चिकित्सकों का इलाज चल रहा है ऐसे में उनको सहूलियत होती है। लेकिन वाराणसी डीएम आवास खाली करने का दबाव बना रहे हैं। उनके साथ जोर जबरदस्ती की जा रही है। मानसिक रूप से भी परेशान किया जा रहा है।

आवास खाली करने को 18 अक्तूबर तक का समय
जिलाधिकारी वाराणसी कौशलराज शर्मा ने सरकारी आवास खाली करने के लिए एडीएम न्यायिक चंदौली अनिल कुमार त्रिपाठी को 18 अक्तूबर तक का समय दिया है। नोटिस जारी कर दी है जिसमें लिखा है कि आपका स्थानांतरण पूर्व में ही चंदौली में हो गया है। कई दफा नोटिस और पत्र देने के बावजूद आपने आवास खाली नहीं किया है। यह आवास अपर नगर मजिस्ट्रेट तृतीय वाराणसी सिद्धार्थ यादव को आवंटित कर दिया गया है। ऐसे में उनको परेशानी हो रही है और सरकारी कार्य में भी बाधा पहुंच रही है। 18 अक्तूबर तक आवास खाली नहीं करने की स्थिति में वीडिया रिकार्डिंग करते हुए आपका पूरा सामान एक कमरे में रखवा दिया जाएगा और आवास पर अपर नगर मजिस्ट्रेट तृतीय को कब्जा दिलवा दिया जाएगा।

On The Spot

खबरों के लिए केवल पूर्वांचल टाइम्स, अफवाहों के लिए कोई भी। हम पुष्ट खबरों को आप तक पहुंचाने के लिए संकल्पिक हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!