fbpx
ख़बरेंचंदौली

Chandauli News : बरंगा की 300 बीघा जमीन रायल ताल के रूप में दर्ज, अब तक किसानों का था कब्जा, कर रहे थे खेती-बाड़ी, बनवा लिया था मकान

चंदौली। सकलडीहा तहसील के बरंगा गांव की 300 बीघा जमीन को फिर से रायल ताल के नाम से दर्ज किया गया है। एसडीएम अनुपम मिश्रा की न्यायालय ने 2022 में दर्ज मुकदमे में फैसला सुनाते हुए 167.5 एकड़ (करीब तीन सौ बीघा) जमीन ताल के रूप में दर्ज करा दी है। गांव में कुल 335 एकड़ जमीन रायल ताल के नाम पर दर्ज है। इसमें मौके पर मात्र 24 एकड़ जमीन बची है। एसडीएम न्यायालय में वर्ष 2022 में धारा 38 टू सरकार बनाम विश्वनाथ के तहत मुकदमा चल रहा था।

 

बरंगा गांव के समीप 335 एकड़ भूमि ताल के नाम से 1356 और 359 फसली में दर्ज थी। इस पर किसानों ने ताल की भूमि अपने नाम से दर्ज कराकर खेती से लेकर मकान बनाकर रहते है। वर्ष 2022 में 20 जून को धारा 38 टू के तहत एसडीएम न्यायालय में सरकार बनाम बासुदेव के नाम से अपील किया गया। इसके तहत किसानों को नोटिस जारी की गई। इस मामले में सकलडीहा एसडीएम न्यायालय की ओर से सुनवाई व सरकारी वकील की बहस सुनने के बाद फैसला किया गया। हाईकोर्ट की आदेश के आधार पर एसडीएम न्यायालय की ओर से 167.5 एकड़ भूमि ताल के नाम पर दर्ज करने का आदेश जारी कर दिया गया है। इस संबंध में एसडीएम अनुपम मिश्रा ने बताया कि 1356 और 1359 फसली के तहत ताल के नाम से बरंगा में 335 एकड़ भूमि दर्ज थी। मौके पर मात्र 24 एकड़ जमीन शेष बची थी। जांच व सुनवाई के बाद 167.5 एकड़ करीब तीन सौ बीघा जमीन को ताल के नाम से दर्ज करने का आदेश दिया गया है।

Back to top button
error: Content is protected !!