fbpx
चंदौलीप्रशासन एवं पुलिस

देश के कोने-कोने तक पहुंचेगा चंदौली के कारीगरों का हुनर, कुछ इस तरह

चंदौली। एक जनपद एक उत्पाद को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने पहल की है। चंदौली के जरी-जरदोजी के कारीगरों का हुनर लिफाफे व डाक टिकट के रूप में देश के कोने-कोने तक पहुंचेगा। डाक विभाग की ओर से जारी रंगीन व आकर्षक लिफाफे की कीमत 20 रुपये व डाक टिकट का मूल्य पांच रुपये निर्धारित किया गया है। जिलाधिकारी संजीव सिंह ने बुधवार को कृषि विज्ञान केंद्र सभागार में डाक टिकट व लिफाफा का विमोचन किया।

जिले में एक जनपद एक उत्पाद के रूप में जरी-जरदोजी को शामिल किया गया है। यहां पांच हजार से अधिक जरी के कारीगर हैं। बनारसी साड़ियों की बुनाई के साथ ही जरी के बेहतरीन उत्पाद तैयार करते हैं। सरकार ने उनके हुनर को जन-जन तक पहुंचाने की योजना बनाई है। इसी उद्देश्य से डाक विभाग की ओर से एक जनपद एक उत्पाद के तहत चयनित जरी-जदरोजी की ब्रांडिंग के लिए रंगीन व आकर्षक लिफाफा और डाक टिकट जारी किया गया है। लिफाफे पर ओडीओपी का लोगो बना है। साथ ही जरी उत्पाद की डिजाइन भी छपी हुई है। डाक टिकट पर जरी के उत्पाद के बने परिधान धारण किए महिला का चित्र अंकित है। वहीं ‘यूपी का हुनर, अब आपके घर’ का स्लोगन भी छपा है। इस पर जरी के काम की बारीकी, विशेषता और इतिहास के बारे में संदेश छपा है। लिफाफे और टिकट के लिए लोगों को 25 रुपये खर्च करने होंगे। जिलाधिकारी ने कहा, जरी कारीगरों की हरसंभव मदद की जाए। प्रशिक्षण देकर उनके हुनर को और निखारने का प्रयास किया जाए। वहीं टूल किट व सरकारी योजनाओं का लाभ दिलाकर आत्मनिर्भर बनाया जाना चाहिए। उपायुक्त उद्योग गौरव मिश्रा ने बताया कि जरी कारीगरों की हरसंभव मदद की जा रही है। उनके उत्पादों की ब्रांडिंग व मार्केटिंग में मदद की जा रही। साथ ही स्वरोजगार के लिए ऋण भी दिलाया जा रहा। मिशन शक्ति के तहत मुख्यमंत्री में आयोजित कार्यक्रम का सीधा प्रसारण किया गया। सीएम ने योजनाओं के बारे में जानकारी दी। अधिकारियों व उपस्थित लोगों ने उनका संबोधन सुना।

महिला उद्यमिता हेल्पलाइन नंबर पर करें फोन
जिलाधिकारी ने बताया कि महिलाओं को उद्योग से जुड़ने में मदद के लिए हेल्पलाइन नंबर और वेबसाइट शुरू की गई है। महिलाएं हेल्पलाइन नंबर 180020126844 पर फोन कर उद्योग से संबंधित योजनाओं के बारे में जानकारी कर सकती हैं। इसके अलावा वेबसाइट डब्ल्यू डब्ल्यू डब्ल्यू डाट एमएसएमई मिशन शक्ति डाट इन (ूूू.उेउमउपेेपवदेींाजप.पद) के जरिए भी जानकारी हासिल कर सकती हैं।

Back to top button
error: Content is protected !!