ख़बरेंराज्य/जिलावाराणसी

गरीब विधवा मीरा के बहुरेंगे दिन, मदद को आगे आईं संस्थाएं

पूर्वांचल टाइम्स इम्पैक्ट…

वाराणसी। गरीबी और मुफसिली की मार झेल रही विधवा मीरा के दिन बहुरने की उम्मीद जगी है। पूर्वांचल टाइम्स में खबर प्रकाशित होने के बाद स्वयं सेवी संस्थाएं गरीब की मदद को आगे आई हैं। सामाजिक क्षेत्र में सक्रिय जनहित के कार्य करने वाली हेल्पिंग हैंड्स और तीसरी अदालत संस्थाओं ने मीरा की मदद की हामी भरी है। हैल्पिंग हैंड्स की शालिनी गोस्वामी और तीसरी अदालत के सुनिल जायसवाल ने पूर्वांचल टाइम्स को बताया कि शीघ्र ही मीरा से संपर्क कर उनकी मदद की जाएगी। आर्थिक तौर पर सहयोग करने के साथ ही अन्य सुविधाएं मुहैया कराने का प्रयास किया जाएगा।

विधवा के पास न रहने का ठिकाना ना ही खाने का इंतजाम
दरअसल विकास खंड बड़ागांव के हाईवे से सटे गांव सिसवां बाबतपुर की मौर्य बस्ती की रहने वाली विधवा मीरा देवी दो छोटे-छोटे बच्चों के साथ दाने-दाने को मोहताज है। उसके पास न रहने का अपना कोई समुचित निवास है और ना ही आय का कोई साधन। और तो और तमाम प्रयास के बावजूद किसी प्रकार की सरकारी सुविधा भी उस तक पहुंचने से ठिठक गई है। मीरा देवी के पास अपनी एक इंच भी जमीन नहीं है। टीन शेड लगाकर जहां वह बच्चों के साथ रह रही है वहां जानवर का भी रहना कठिन है। मीरा का पति मुम्बई मे बढ़ई गिरी का कार्य करता था जहां उसकी मौत हो गई। मायानगरी में पति को खोने के बाद गांव लौटी मीरा देवी अपने बच्चों की परवरिस को लेकर खासा चिंतित हैं। उन्होंने बताया कि मैं कई बार प्रधान जी के पास गई लेकिन हर बार यही कहकर टाल देतें है कि आवास अभी नहीं आया है आने पर मिलेगा।

Leave a Reply

Back to top button
error: Content is protected !!