fbpx
क्राइमचंदौलीराज्य/जिला

मुगलसराय गोली कांडः जान पर बन आई तब गुड्डू पाठक ने गोली चलाई, 15 वर्षों से था जगदीश के पान का मुरीद

जय तिवारी

चंदौली। मुगलसराय में पान विक्रेता को गोली मारने के मामले में पुलिसिया जांच जैसे-जैसे आगे बढ़ रही है घटना की वजह भी साफ होती जा रही है। आरोपी गुड्डू का जगदीश और उसके पूरे परिवार के साथ काफी गहरा संबंध था। कुछ दिनों पहले जमीन की खरीद फरोख्त से जुड़े विवाद के बाद रिश्तों में तल्खी आई थी। घटना वाले दिन जगदीश ने गुड्डू के पसंद का मगही पान नहीं लगाया। टोकने पर कहा कि पुराना पैसा चुकता करो तब मगही खाओ। इसी बात पर विवाद बढ़ा तो मारपीट शुरू हो गई। पुलिस के अनुसार जगदीश और दुकान पर मौजूद परिवार का ही युवक गुड्डू पर टूट पड़े। खुद को कमजोर पड़ता देख गुड्डू ने भी अपनी लाइसेंसी पिस्टल निकाली और जगदीश चौरसिया पर फायर झोंक दिया। इसके बाद हवाई फायरिंग करते हुए भाग निकला। सूत्रों की माने तो पुलिस ने गुड्ड़ू की स्कार्पियो बरामद कर ली है। वहीं गोली से घायल पान विक्रेता की हालत भी अब खतरे से बाहर बताई जा रही है।

 

15 वर्षों से जगदीश चौरसिया के पान का मुरीद था गुड्डू
गोलीकांड के आरोपी गुड्डू और पान विक्रेता जगदीश चौरसिया के बीच पुराने और प्रगाढ़ संबंध थे। गुड्डू पिछले 15 वर्षों से जगदीश चौरसिया की दुकान का पान खाता आ रहा था। कहीं बाहर भी जाता तो बकायदा पान बंधवा कर ले जाता। दोनों को करीब से जानने वालों की माने तो जगदीश चौरसिया से छोटे भाई जमीन की खरीद-फरोख्त के काम से भी जुड़े हैं। गोधना में किसी जमीन की बिक्री को लेकर गुड्डू का जगदीश के भाईयों से मनमुटाव हो गया था। संबंधों में आई यही तल्खी घटना की वजह बनी। फिलहाल पुलिस आरोपी गुड्डू की तलाश में लगातार दबिश दे रही है।

Back to top button
error: Content is protected !!