fbpx
चंदौलीप्रशासन एवं पुलिसराज्य/जिला

चंदौलीः जातीय हिंसा की आंच में नहीं झुलसेंगे सिकटिया और तारनपुर, पुलिस ने कर दिया स्थाई समाधान

संवाददाताः रंधा सिंह

चंदौली। अलीनगर थाना क्षेत्र के सिकटिया और तारनपुर में जातीय हिंसा जैसी घटना की पुनरावृत्ति नहीं होगी। पुसिस की ओर से ठोस इंतजाम कर दिए गए हैं। एसपी अंकुर अग्रवाल के निर्देश पर सिकटिया चौराहे पर स्थाई तौर पर पुलिस सहायता बूथ स्थापित कर दिया गया है। यहां एक एक दारोगा और पुलिसकर्मी 24 घंटे ड्यूटी देंगे।

सिकटिया और दुसधान बस्ती के बीच जातीय हिंसा में दोनों ही पक्षों को काफी नुकसान उठाना पड़ा। एक युवक की जांन चली गई तो आगजनी में कई दुकाने जलकर राख हो गईं। हिंसा का शिकार वो लोग भी हुए जिनका मामले से कुछ भी लेना-देना नहीं था। पुलिस पर भी सुस्ती और लापरवाही जैसे आरोप लग रहे हैं। पिछले विधान सभा चुनाव के दौरान भी यहां जमकर पत्थबाजी हुई थी। बहरहाल देर आए दुरुस्त आए की तर्ज पर पुलिस ने इस समस्या का स्थाई समाधान ढूंढ निकाला है। सिकटिया चौराहे पर पुलिस सहायता बूथ स्थापित कर दिया गया है। यहां एक एसआई और पर्याप्त पुलिसकर्मियों की ड्यूटी लगाई जाएगी जो दोनों गांवों के ग्रामीणों की गतिविधियों पर नजर रखेंगे। शांति व्यवस्था भंग करने वालों के खिलाफ तत्काल कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

सिकटिया गांव रेलवे का बार्डर भी है। हाल में हुई जातीय हिंसा के अलावा भी पूर्व में छिटपुट घटनाएं हुई हैं। लिहाजा भविष्य में कानून व्यवस्था प्रभावित न हो इसके लिए यहां पुलिस सहायता बूथ स्थापित करा दिया गया है। एसआई और पुलिसकर्मी 24 घंटे मुस्तैद रहेंगे। – एसपी अंकुर अग्रवाल

Back to top button
error: Content is protected !!