fbpx
Career | कैरियारचंदौलीराज्य/जिला

Chandauli news: डिप्टी जेलर से सीधे बनीं आईएएस, चंदौली की बेटी ने बढ़ाया जिले का मान, पिता शिक्षा विभाग में वरिष्ठ लिपिक

बरहनी निवासी कृति त्रिपाठी फिलहाल पीडीडीयू नगर में रहती हैं। बीएचयू से पीएचडी कर रहीं कृति ने फरवरी माह में पीसीएस की परीक्षा पास की थी। 17वीं रैंक पाकर डिप्टी जेलर के पद पर चयनित हुई थीं।
  • सिविल सर्विसेज की परीक्षा में 149वीं रैंक हासिल की
  • आईएएस की परीक्षा पास कर चंदौली की बेटी ने जिले का मान बढ़ाया
  • खुद से ही कठिन परीश्रम कर पहले ही प्रयास में आईएसए की परीक्षा पास कर ली

 

चंदौली। आईएएस की परीक्षा पास कर चंदौली की बेटी ने जिले का मान बढ़ाया है। नरवन क्षेत्र के बरहनी की कृति त्रिपाठी ने सिविल सर्विसेज की परीक्षा में 149वीं रैंक हासिल की हैै। पिता उपेंद्र प्रकाश त्रिपाठी राजकीय इंटर कालेज चकिया में वरिष्ठ लिपिक हैं। पूर्वांचल टाइम्स से बातचीत में कीर्ति ने अपनी सफलता का श्रेय माता-पिता और गुरु हो दिया है।

बरहनी निवासी कृति त्रिपाठी फिलहाल पीडीडीयू नगर में रहती हैं। बीएचयू से पीएचडी कर रहीं कृति ने फरवरी माह में पीसीएस की परीक्षा पास की थी। 17वीं रैंक पाकर डिप्टी जेलर के पद पर चयनित हुई थीं। हालांकि अभी तक उन्होंने नौकरी ज्वाइन नहीं की थी। अपनी इस सफलता से गदगद कृति त्रिपाठी ने बताया कि खुद से ही कठिन परीश्रम कर पहले ही प्रयास में आईएसए की परीक्षा पास कर ली। पिता वरिष्ठ लिपिक हैं तो बड़े पिता श्रीदत्त त्रिपाठी झारखंड में जिला जज और चाचा डीपी त्रिपाठी नेत्र रोग विशेषज्ञ हैं। कृति ने अपने गुरु प्रो. तेज प्रताप सिंह का विशेष आभार जताया। उनकी सफलता से गांव सहित परिवार के लोग काफी प्रसन्न हैं। कृति और उनके पिता उपेंद्र त्रिपाठी को बधाई देने वालों का तांता लगा रहा।

Back to top button
error: Content is protected !!