fbpx
ख़बरेंचंदौली

Chandauli News : आंदोलनरत अधिवक्ताओं ने चंदौली प्रशासन व जनप्रतिनिधियों के खिलाफ की नारेबाजी, वाराणसी प्रशासन को सराहा

चंदौली। जिला न्यायालय व जिला मुख्यालय निर्माण को लेकर आंदोलन 41वें दिन भी जारी रहा। इस दौरान अधिवक्ताओं ने राष्ट्रगान किया। इसके बाद कचहरी परिसर का चक्रमण कर चंदौली के जनप्रतिनिधियों व जिला प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की। वहीं जिला न्यायालय व जिला मुख्यालय के निर्माण व विकास को तीब्रगति से पूरा किए जाने की पुरजोर मांग की।

 

इस दौरान संघर्ष समिति के अध्यक्ष झन्मेजय सिंह ने कहा कि चंदौली के अधिवक्ताओं के मांग-पत्र को पीएम नरेंद्र मोदी तक प्रेषित करने और कृत कार्रवाई से संबंधित पत्र प्रेषित कर अवगत कराने के लिए वाराणसी जिला प्रशासन, पुलिस कमिश्नरेट एवं एसीपी भेलूपुर प्रवीण कुमार सिंह का आभार। कहा कि चंदौली प्रशासन को भी इससे प्रेरणा लेकर काम करना चाहिए। जो काम चंदौली के जिला प्रशासन व जनप्रतिनिधियों को करना चाहिए, उन्होंने उस दायित्व को पूरा नहीं किया। जो चंदौली के विकास अतिमहत्वपूर्ण मामला है। बावजूद इसके न्यायालय निर्माण संघर्ष समिति ने अपने कर्मठ व समर्पित अधिवक्ता साथियों के दम पर चंदौली की आवाज को पीएम नरेंद्र मोदी तक पहुंचाने में सफल रहे। इसके साथ ही अधिवक्ताओं ने एक बार फिर यह संदेश दिया कि जनहित के मुद्दे पर उनका संघर्ष ऐसे ही पूरे दमखम से आगे बढ़ेगा। एक-एक कर अपनी मांगों को पूरा कराने का काम करेगा। इमरान सिद्दीकी ने कहा कि जिला प्रशासन व यहां के स्थानीय जनप्रतिनिधि चाहे जितना जोर लगा दें, चंदौली की जनता व अधिवक्ताओं की आवाज को दबा नहीं सकते। चंदौली वीर क्रांतिकारियों व शहीदों की धरती है। ऐसे में कुछ भी करने से पहले यहां के प्रशासन व जनप्रतिनिधियों को चंदौली का इतिहास जान लें। कहा कि संघर्ष समिति ने आगे का जो भी कार्यक्रम निर्धारित किया है। यदि मांगें पूरी नहीं होती है अधिवक्ता अपने आंदोलन को अनवरत जारी रखेंगे। इस दौरान राकेश रत्न तिवारी, महानन्द सिंह, रवि कुमार सिंह, विकास सिंह, पंकज सिंह, मणिशंकर राय, संदीप सिंह, प्रवीण यादव, बजरंगी यादव आदि उपस्थित रहे। सभा की समाप्ति की घोषणा राजेश दीक्षित व संचालन उज्ज्वल सिंह ने किया।

Back to top button
error: Content is protected !!