fbpx
चंदौलीप्रशासन एवं पुलिस

डीएम ने स्वास्थ्य योजनाओं की जानी प्रगति, बैठक में अनुपस्थित नोडल अफसर का वेतन रोका, योजनाओं की खराब स्थिति पर प्रभारी चिकित्साधिकारियों को चेतावनी

चंदौली। शासी निकाय (जिला स्वास्थ्य समिति) की बैठक शनिवार को कलेक्ट्रेट सभागार में हुई। इसमें जिलाधिकारी संजीव सिंह  ने स्वास्थ्य योजनाओं के प्रगति का हाल जाना। उन्होंने बैठक में गायब स्वास्थ्य कार्यक्रमों के नोडल अफसर डा. सीपी सिंह का वेतन रोकने की कार्रवाई की। संस्थागत प्रसव, टीकाकरण, गर्भवती पंजीकरण की खराब स्थिति पर चंदौली, सकलडीहा, शहाबगंज, अर्बन यूनिट चंदौली, नियामताबाद के प्रभारी चिकित्साधिकारी, बीपीएम, बीसीपीएम को चेतावनी पत्र जारी करने के निर्देश दिए। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों-कर्मचारियों को ईमानदारी के साथ ड्यूटी करने की हिदायत दी। लापरवाही पर सख्त कार्रवाई की चेतावनी दी।

 

 

डीएम ने कहा कि स्वास्थ्य केंद्रों, उपकेंद्र में अभियान चलाकर सफाई कराई जाए। चिकित्सालयों में जलनिकासी की समुचित व्यवस्था कराई जाए। लक्ष्य के सापेक्ष आयुष्मान गोल्डन कार्ड बनाए जाने की प्रगति संतोषजनक नहीं है। इसमें तेजी लाते हुए शत-प्रतिशत लाभार्थियों के गोल्डेन कार्ड बनवाए जाएं। जननी सुरक्षा योजना के तहत गर्भवती महिलाओं को प्रसव की संस्थागत सुविधा प्रदान की जानी चाहिए। इसमें किसी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। कहा कि पीसीपीएनडीटी एक्ट के तहत निर्देशानुसार नियमित निरीक्षण किया जाए। इस एक्ट का उल्लंघन करने वाले केंद्रों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। कायाकल्प योजना के तहत स्वास्थ्य सुविधाओं को बेहतर करने की आवश्यकता है। स्वास्थ्य केंद्रों पर बेहतर साफ-सफाई, चिकित्सकों की समय से उपस्थित, दवाओं की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित रहे, जिससे जनसामान्य को इसका भरपूर लाभ मिल सके। उन्होंने बीडीओ को निर्देशित करते हुए कहा कि आयुष्मान गोल्डन कार्ड व कोविड वैक्सिनेशन आदि कार्यक्रमों में चिकित्सा विभाग को पूर्ण सहयोग दें। अस्पतालों में अभिलेखों का सही ढंग से रखरखाव किया जाए। आंकड़ों का अंकन रजिस्टर में निश्चित रूप से करें। सही आंकड़े फीड किए जाएं।  गलत डाटा कत्तई न प्रस्तुत करें। अधूरे, फर्जी एवं गलत आंकड़े पाए जाने पर कार्रवाई होगी। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सकलडीहा के कंप्यूटर ऑपरेटर की लापरवाही सामने आने पर सख्त हिदायत दी। बोले, कार्यप्रणाली में सुधार करें वरना उनके खिलाफ बर्खास्तगी की कार्रवाई की जाएगी। बैठक में सीडीओ अजितेंद्र नारायण, सीएमओ डा. वाईके राय के साथ ही प्रभारी चिकित्साधिकारी व विभागीय अधिकारी मौजूद रहे।

Related Articles

Back to top button