fbpx
ख़बरेंचंदौली

Chandauli News : चंद्रप्रभा डैम से पानी का रिसाव, नाराज किसानों ने किया प्रदर्शन

चंदौली, चंद्रप्रभा डैम, पानी रिसाव, किसानों का प्रदर्शन
  • करोड़ों खर्च के बावजूद डैम से नहीं रुका पानी का रिसाव किसानों का आरोप, अधिकारी हजम कर गए मरम्मत का पैसा बोले, जल्द समस्या का समाधान नहीं हुआ तो करेंगे आंदोलन
  • करोड़ों खर्च के बावजूद डैम से नहीं रुका पानी का रिसाव
  • किसानों का आरोप, अधिकारी हजम कर गए मरम्मत का पैसा
  • बोले, जल्द समस्या का समाधान नहीं हुआ तो करेंगे आंदोलन

 

चंदौली। किसानों को संजीवनी देने वाले चंद्रप्रभा डैम के गेट और दीवारों से लगातार हो रहे रिसाव को बंद कराने की मांग को लेकर भारतीय किसान यूनियन से जुड़े किसानों ने डैम के पास प्रदर्शन किया। इस दौरान सिंचाई विभाग के अधिकारियों पर गंभीर आरोप लगाए। जल्द से जल्द समस्या के समाधान की मांग की। चेताया कि यदि रिसाव को ठीक नहीं कराया गया तो व्यापक स्तर पर आंदोलन किया जाएगा।

 

किसानों का नेतृत्व कर रहे भारतीय किसान यूनियन के तहसील अध्यक्ष एडवोकेट वीरेंद्र पाल ने कहा कि बरसात के पूर्व लगभग 12 करोड रुपये की धनराशि से चंद्रप्रभा डैम का जीर्णोद्धार किया गया था। सिंचाई विभाग के अधिकारियों ने ठेकेदार की मिली भगत से जीर्णोद्धार के लिए मिले करोड़ों रुपये का बंदर बांट कर लिया। इस दौरान डैम का न तो गेट ठीक ढंग से बदला गया, न ही डैम की दीवारों में पैचिंग की गई। इसके अलावा दीवार के छिद्र को बंद करने के लिए इस्तेमाल में ली जाने वाली एपॉक्सी पदार्थ की ग्राउटिंग को भी कागज में पूर्ण कर लिया गया। इसके परिणाम स्वरूप डैम से आज भी लाखों लीटर पानी गिरकर प्रतिदिन बर्बाद हो रहा है। किसानों ने कहा मामले में संपूर्ण समाधान दिवस के अलावा विभागीय अधिकारियों को जब भी लिखित पत्राचार किया गया है, लेकिन कोरे आश्वासन के अलावा कुछ नहीं मिला। चेताया किसानों को संजीवनी देने वाले डैम के रिसाव को बंद नहीं किया गया तो वह व्यापक स्तर पर आंदोलन के लिए बाध्य होंगे। प्रदर्शन में आशीष राय, वरुण दुबे योगाचार्य देशराज, सोहन मौर्य, रामकेश पाल, संतोष, पुल्लू, विजयी, ओमप्रकाश, धर्मेंद्र, नंदू, अरविंद आदि शामिल रहे।

 

 

Back to top button
error: Content is protected !!