fbpx
चंदौलीप्रशासन एवं पुलिस

Chandauli DM Isha Duhan ने निर्माणाधीन कक्ष का किया निरीक्षण, निर्माण सामग्री की जांच कराने का दिया निर्देश, बोलीं, कार्यदायी संस्था मजदूर बढ़ाकर जल्द पूरा कराए काम

चंदौली। जिलाधिकारी Isha Duhan ने सोमवार को मुगलसराय कोतवाली में निर्माणाधीन विवेचना कक्ष, बैरक और हास्टल का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने निर्माण सामग्री की गुणवत्ता की जांच कराने का निर्देश दिया। कार्यदायी संस्था के प्रतिनिधि को हिदायत दी कि मजदूरों की संख्या बढ़ाकर जल्द काम पूरा कराए।

 

उन्होंने कहा कि निर्माण कार्य की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दें। काम की प्रगति धीमी थी। ऐसे में कार्यदायी संस्था को निर्देशित किया कि मजदूरों की संख्या बढ़ाकर जल्द निर्माण कार्य पूरा कराएं। कहा कि दिसंबर के अंत तक गुणवत्तापूर्ण ढंग से प्रत्येक दशा में पूर्ण करा लिया जाए। उन्होंने विवेचना कक्ष के निर्माण में उपयोग की जा रही ईट, सरिया, सीमेंट आदि का सैंपल लेकर गुणवत्ता की जांच कराए जाने के निर्देश दिए। बैरक/हास्टल के निरीक्षण के दौरान निर्माण कार्य पूर्ण बताया गया। विद्युत विभाग का कार्य अधूरा पाया गया। खिड़कियों में जाली लगाने का कार्य किया जा रहा है। जिलाधिकारी ने खिड़कियों पर लगाए जाने वाली जाली को अच्छे ढंग से लगाने, गुणवत्ता मेंटेन करने, कार्य की नियमित मॉनिटरिंग किए जाने के निर्देश कार्यदायी संस्था के अभियंता को दिए। उन्होंने कहा कि 15 दिन में प्रत्येक दशा में अवशेष कार्यों को पूर्ण करा कर हैंड ओवर करा दिया जाए। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने बैरक के कमरों,टॉयलेट, किचन आदि का निरीक्षण कर कमियों को तत्काल सुधारने के निर्देश के साथ ही फिनिशिंग का कार्य अच्छे प्रकार से कराए जाने के निर्देश कार्यदायी संस्था को दिया। इसके बाद डीएम ने नगरीय निकाय चुनाव के दृष्टिगत नगर पालिका इंटर कॉलेज मुगलसराय में बनाए जाने वाले बूथ को देखा। खिड़कियों के पल्ले, दरवाजे आदि टूटे रहने पर तत्काल दुरुस्त कराए जाने के निर्देश प्रधानाचार्य को दिए। टॉयलेट की साफ-सफाई, हैंडवॉस, साबुन, वाशबेसिंग आदि की व्यवस्था दुरुस्त कराए जाने के निर्देश दिये। निरीक्षण के दौरान टॉयलेट, नालियों एवं परिसर में व्याप्त गंदगी पाए जाने पर नाराजगी व्यक्त करते हुई तत्काल पर्याप्त साफ-सफाई कराए जाने हेतु निर्देशित किया। मौके पर नगर पालिका परिषद के उपस्थित अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि डेंगू, मलेरिया आदि मौसमी बीमारियों के दृष्टिगत रोकथाम हेतु नाले नालियों गलियों आदि की नियमित साफ सफाई, फागिंग, ब्लीचिंग आदि दवाओं का छिड़काव किया जाय।

Related Articles

Back to top button