क्राइमचंदौलीराज्य/जिला

सावधान! जानलेवा हो गई हैं चंदौली की ये सड़कें, दुर्घटना में एक की मौत, आधा दर्जन घायल

चंदौली। सड़क दुर्घटनाएं योगी सरकार के गड्ढा मुक्त सड़कों की पोल खोल रही हैं। चंदौली जिले में कुछ सड़क मार्ग जर्जर होकर जानलेवा साबित हो रहे हैं। सोमवार को अलग-अलग सड़क दुर्घटनाओं में 60 वर्षीय महिला की मौत हो गई जबकि आधा दर्जन लोग घायल हो गए।


अलीनगर सकलडीहा मार्ग इन दिनों जानलेवा बना हुआ है। सोमवार को अलीनगर क्षेत्र के चकरियां गांव के समीप पिकअप ने आटो में टक्कर मार दी। इससे आटो अनियंत्रित होकर पलट गया। इसमें सवार तेंदुईपुर गांव निवासी रामदुलारी (60) की मौत हो गई। उनके पुत्र लखेंदर (45) गंभीर रूप से घायल हो गए। अन्य पांच सवारियों को हल्की चोटें आईं। घटना से नाराज लोगों ने शव के साथ सकलडीहा कोतवाली क्षेत्र के तेंदुईपुर गांव के समीप अलीनगर-सकलडीहा मार्ग को जाम कर दिया। सूचना के बाद कोतवाल भूपेशचंद्र कुशवाहा पहुंचे। उन्होंने समझाकर चक्काजाम समाप्त कराया। वहीं शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। तेन्दुईपुर गांव निवासी बाला लखेन्दर चौहान अपनी मां रामदुलारी देवी, पुत्री पूजा, भाई संजय, अनीता, विमल व अनमोल के साथ आटो में सवार होकर मीरजापुर में मुंडन कराने के लिए जा रहे थे। गांव से कुछ ही दूरी पर पहुंचे थे, तभी सामने से आ रही तेज रफ्ताप पिकअप ने आटो में जोरदार टक्कर मार दी। इससे आटो अनियंत्रित होकर पलट गया। वहीं आटो में सवार महिला की मौत हो गई। लखेंदर गंभीर रूप से घायल हो गए। अन्य को हल्की चोटें आई हैं। घटना को अंजाम देने के बाद पिकअप चालक वाहन खड़ाकर फरार हो गया।

दूसरी घटना अलीगर थाना क्षेत्र क ही कुछमन गांव के पास की है। अनियंत्रित कार चहनियां क्षेत्र के देवाइतपुर निवासी 46 वर्षीय बाइक सवार सुदर्शन पांडेय को टक्कर मारते हुए दीवार से टकरा गई। बाइक सवार गंभीर रूप से घायल हो गए। उन्हें इलाज के लिए निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

तीसरी घटना सकलडीहा चंदौली मार्ग स्थित प्रतिमा पेट्रोप पंप के पास की है। बाइक और आटो की टक्कर में आटो सवार 58 वर्षीय राम भरख निवासी खगवल और सकलडीहा कस्बा निवासी धर्मशीला 37 वर्ष और उनका सात वर्षीय पुत्र आशुतोष घायल हो गए। दुर्घटना के बाद बाइक सवार फरार हो गया। चंदौली की प्रमुख सड़के खस्ताहाल हैं। गड्ढा मुक्ति के नाम पर कोरमपूर्ति की जा रही है। इससे लोगों में आक्रोश पनप रहा है। अधिकारियों की लापरवाही का खामियाजा बीजेपी को भुगतना पड़ सकता है।

Back to top button
error: Content is protected !!