fbpx
चंदौलीराजनीतिराज्य/जिला

सपाइयों ने दिखाई आंदोलन की ताकत, पुलिस से नोंकझोक, धक्कामुक्की

चंदौली। गणतंत्र दिवस पर किसानों के समर्थन में ट्रैक्टर परेड निकाल रहे सपाइयों को वैसे तो पुलिस ने जगह-जगह रोक लिया और जिला मुख्यालय तक जाने नहीं दिया लेकिन उत्साही कार्यकर्ताओं को रोकने में पुलिस के पसीने छूट गए। इस दौरान सपाइयों की पुलिस से नोंकझोक और धक्कामुक्की भी हुई। सपा के पूर्व जिलाध्यक्ष बलिराम यादव कार्यकर्ताओं के साथ ट्रैक्टर लेकर अपने गांव बगहीं से सैयदराजा तक पहुंच गए। यहां पुलिस ने उनके साथ जोर दबर्दस्ती करते हुए वाहन से उतार दिया और कुछ देर के लिए हिरासत में ले लिया। इसी तरह पूर्व सांसद रामकिशुन यादव, सकलडीहा विधायक प्रभुनारायण यादव और सपा के राष्ट्रीय सचिव मनोज सिंह भी ट्रैक्टर से साथ कूच कर गए लेकिन पुलिस ने आगे जाने से जबर्दस्ती रोक दिया।

किसान संगठनों और राजनीतिक दलों के ट्रैक्टर परेड के आह्वान के मद्देनजर पुलिस और प्रशासनिक अमला पहले से ही मुस्तैद था। पुलिस ने ट्रैक्टर मालिकों को नोटिर जारी कर परेड में शामिल नहीं होने की चेतावनी दे दी थी जबकि पंप संचालकों को भी हिदायत दी गई है कि 26 जनवरी के दिन किसी भी ट्रैक्टर में डीजल न डालें। लेकिन सपाई कहां मानने वाले थे। ट्रैक्टर की संख्या भले ही कम हो गई लेकिन उत्साह जरा सा भी नहीं डिगा। जितने ट्रैक्टर और कार्यकर्ता आए सबको लेकर तहसील और जिला मुख्यालय की ओर कूच गए गए। लेकिन पुलिस भी पूरी तरह मुस्तैद थी। सपा नेताओं को आगे नहीं जाने दिया गया।

पुलिस से जूझे पूर्व जिलाध्यक्ष बलिराम यादव

सैयदराजा विधान सभा में सक्रिय पूर्व जिलाध्यक्ष बलिराम यादव को रोकने में पुलिस को काफी मशक्कत करनी पड़ी। उन्होंने पुलिस के पसीने छुड़ा दिए। इस दौरान थाना प्रभारी लक्ष्मण पर्वत के साथ नोंकझोक भी हुई। पुलिस ने उन्हें जबर्दस्ती वाहन से उतारा और काफी मशक्कत के बाद हिरासत में भी ले लिया। इस दौरान संतोष उपाध्याय सहित अन्य कार्यकर्ता भी सक्रिय रहे।

On The Spot

खबरों के लिए केवल पूर्वांचल टाइम्स, अफवाहों के लिए कोई भी। हम पुष्ट खबरों को आप तक पहुंचाने के लिए संकल्पिक हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button