fbpx
चंदौलीप्रशासन एवं पुलिस

चंदौली : बैठक में गायब रेलवे अफसर व ईओ को स्पष्टीकरण, कार्यप्रणाली नहीं सुधरी तो रुकेगा वेतन, लापरवाह अफसरों पर डीएम सख्त

चंदौली। शासन की सख्ती के बावजूद अफसरों की कार्यप्रणाली नहीं बदल रही। बैठकों से गायब रहते हैं। वहीं दफ्तरों में भी लेतलतीफी जारी है। इसकी वजह से जनता परेशान है। जिलाधिकारी ईशा दुहन ने ऐसे अफसरों की नकेल कसनी शुरू कर दी है। उन्होंने वृक्षारोपण व पर्यावरण समिति की बैठक में गायब रेलवे अफसर व नगर निकायों के ईओ को स्पष्टीकरण जारी कर जवाब मांगा है। उन्होंने कार्यप्रणाली में सुधार न होने पर वेतन रोकने की चेतावनी दी है।

 

विभागों की ओर से 05,06,07 जुलाई व 15 अगस्त को जिले में लगाए गए पौधों की सुरक्षा को लेकर समीक्षा की गई। डीएम ने वृक्षों की शत प्रतिशत जियो टैगिंग अविलंब कराने के निर्देश दिए। बैठक के दौरान रेलवे के अधिकारी,  अधिशासी अधिकारी नगर पालिका परिषद व नगर पंचायत गायब रहे। डीएम ने अफसरों के रवैये पर गहरी नाराजगी जताई। उन्होंने बैठक में अनुपस्थित अफसरों का वेतन रोकने की चेतावनी दी। डीएम ने कहा कि अस्पतालों के बायोमेडिकल अपशिष्ट का समुचित निस्तारण सुनिश्चित हो। निर्माणाधीन परियोजनाओं में सुरक्षा के सभी मानकों का कड़ाई से पालन किया जाए। सभी नगर पालिका परिषद, नगर पंचायत इसका कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित करें। गंगा किनारे के ग्राम पंचायतों में निर्देशानुसार नालों से प्रदूषित जल नदी में न गिरने पाए यह सुनिश्चित किया जाए। नालों को टैप करने की कार्यवाही करें। चंदासी कोयला मंडी में व्याप्त प्रदूषण के निस्तारण के संबंध में ठोस कार्रवाई सुनिश्चित हो। जिलाधिकारी ने प्रदूषण के मानकों का पालन नहीं करने वाले वाहनों का अभियान चलाकर चालान करने के निर्देश दिए। उन्होंने अगले 15 दिनों तक ओवरलोड वाहनों के व्यापक धरपकड़ की कार्रवाई  करने के निर्देश दिए। समस्त संबंधित विभाग गंगा एक्शन प्लान तैयार कर वन विभाग को  अविलंब उपलब्ध कराना सुनिश्चित किया जाए। गंगा किनारे के समस्त ग्रामों में गंगा नदी एवं जीवों के संरक्षण हेतु चौपाल का आयोजन किया जाय।

 

बलुआ घाट पर भव्य गंगा आरती की करें तैयारी

देव दीपावली के दौरान बलुआ गंगा घाट पर देव दीपावली का आयोजन प्रस्तावित है। जिलाधिकारी ने अधिकारियों को इसके लिए तैयारी करने के निर्देश दिए। कहा कि अधिकारी अभी से इसमें जुट जाएं।  बैठक में सीडीओ अजितेंद्र नारायण, डीएफओ दिनेश सिंह समेत विभागीय अधिकारी मौजूद रहे।

Related Articles

Back to top button