fbpx
चंदौलीराज्य/जिला

सकलडीहा पीजी कालेज छात्र संघ अध्यक्ष व महामंत्री आपस में उलझे, थाने पहुंचा मामला, बीजेपी नेता भी डटे

चंदौली। सकलडीहा पीजी कॉलेज में गुरुवार को समाजवादी पार्टी छात्र सभा की ओर से आयोजित सम्मान समारोह में छात्रों के दो गुट आपस में भिड़ गए। धक्का-मुक्की के बाद माहौल बिगड़ा कालेज प्रबंधन को पुलिस बुलानी पड़ी। किसी तरह से टकराव को टाला गया। छात्र संघ महामंत्री ने छात्रसंघ अध्यक्ष के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर थाने में तहरीर दी। बीजेपी के स्थानीय नेता भी समर्थन में मौजूद रहे।


छात्र संघ अध्यक्ष मुकेश सिंह यादव के नेतृत्व में महाविद्यालय में समाजवादी छात्र सभा की ओर से छात्र सम्मान समारोह का आयोजन किया गया था। इसी बीच छात्र संघ महामंत्री मेहताब अली एबीवीपी कार्यकर्ताओं के साथ मौके पर पहुंचे और कार्यक्रम का विरोध शुरू कर दिया। सम्मान समारोह के बहाने सपा का सदस्यता अभियान चलाने का आरोप लगाया। वहीं छात्र संघ अध्यक्ष मुकेश सिंह यादव ने आरोप लगाया कि पिछले दिनों एबीवीपी की ओर से महाविद्यालय में सदस्यता कार्यक्रम किया गया था। जिसका हम लोगों ने कोई विरोध नही किया था। कार्यक्रम को लेकर पूर्व में कॉलेज प्रशासन को अवगत कराया गया था। इसके बाद भी विरोध किया जा रहा है। वही कालेज महामंत्री मेहताब अली ने छात्र संघ अध्यक्ष पर एक पार्टी का कार्यक्रम आयोजित करने को गलत ठहराया। कहा बिना अनुमति का कालेज में एक पार्टी का कार्यक्रम नही हो सकता। आरोप लगाया कि जब कार्यक्रम का हम वीडियो बना रहे थे तो छात्र संघ अध्यक्ष ने मेरा मोबाइल छीन लिया और हमारे साथ धक्का-मुक्की की। कॉलेज में छात्रों के दो गुट के बीच टकराव की स्थिति को देखते हुए कॉलेज प्रशासन को पुलिस बुलानी पड़ी। महामंत्री और समर्थक छात्र कार्यक्रम आयोजक सहित अन्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने की मांग को लेकर कोतवाली पहुंचे। बीजेपी चिकित्सा प्रकोष्ठ संयोजक कृष्णा नंद पांडेय फौजी भी छात्रों के समर्थन में आ गए। कोतवाल संजीव मिश्र ने बताया कि मामले की जांच कर कार्रवाई की जाएगी।

On The Spot

खबरों के लिए केवल पूर्वांचल टाइम्स, अफवाहों के लिए कोई भी। हम पुष्ट खबरों को आप तक पहुंचाने के लिए संकल्पिक हैं।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!