fbpx
चंदौलीराजनीति

Chandauli News : भारत जोड़ो न्याय यात्रा पर हमले के विरोध में कांग्रेसजनों ने किया प्रदर्शन, असम के सीएम हिमंत विस्वा सरमा पर लगाया आरोप

चंदौली। भारत जोड़ो न्याय यात्रा पर हमले के विरोध में कांग्रेसजनों ने मंगलवार को मुख्यालय स्थित पंडित कमलापति त्रिपाठी पार्क में विरोध-प्रदर्शन किया। इस दौरान असम के मुख्यमंत्री हिमंत विस्वा सरमा पर योजनाबद्ध तरीके से यात्रा को बाधित करने का आरोप लगाया।

 

जिलाध्यक्ष धर्मेन्द्र तिवारी ने कहा कि राहुल गांधी के नेतृत्व में भारत जोड़ो न्याय यात्रा 14 जनवरी को मणिपुर में शुरू हुई थी। यात्रा सफलतापूर्वक मणिपुर, नागालैंड, अरुणाचल प्रदेश से होकर गुजरी है और अब असम में प्रवेश कर गई है। लोगों के दिलों को छूने वाली यह यात्रा हमारे देश में युवाओं, महिलाओं और हाशिये पर रहने वाले लोगों के लिए सफलतापूर्वक न्याय की मांग कर रही हैं। अफसोस की बात यह है कि भाजपा विशेष रूप से असम में इसे बाधित करने की कोशिश कर रही है। खासतौर से असम से सीएम हिमंत विस्व सरमा यात्रा को योजनाबद्ध तरीके से बाधित करने की कोशिश कर रहे हैं। पिछले दो दिनों में भारत जोड़ो न्याय यात्रा काफिले पर योजनाबद्ध हमले और इन उपद्रवियों की ओर से हमारी यात्रा के पोस्टरों को फाड़ने की घटनाएं देखी हैं। 21 जनवरी को भाजपा कार्यकर्ताओं की इकट्ठी की गई भीड़ ने राहुल गांधी के नेतृत्व में चल रही भारत जोड़ो न्याय यात्रा के काफिला पर हमला किया। इसके परिणामस्वरूप असम कांग्रेस कमेटी के प्रदेश अध्यक्ष सहित कांग्रेस पार्टी के कई नेता घायल हो गए हैं। गाड़ियों पर पथराव किया गया। कहा कि यह हमला भाजपा की हताशा और असम के मुख्यमंत्री के भ्रष्टाचार को छिपाने का प्रयास है। धरना-प्रदर्शन में रामजी गुप्ता, नारायण मूर्ति ओझा, मधु राय, विजय त्रिपाठी, शीतला राय, प्रताप नारायण पाण्डेय, राजेंद्र गौतम, गंगा प्रसाद, तौफीक खान, उदय नाथ उपाध्याय, राहुल सिंह,अरुण द्विवेदी, औसाफ अहमद, शाहिद तौसीफ़, बृजेश गुप्ता, शिवतपस्या तिवारी, निहाल अख्तर बाबू, संत यादव, शिवेंद्र मिश्रा, कमलेश संत, सत्येन्द्र उपाध्याय, विनोद सिंह गणित, बाबा गोंड, दशरथ चौहान, राकेश सिंह, मोहम्मद आजम, इंद्रदेव पाठक, सुजीत सिंह, इंद्रजीत मिश्रा, असद इक़बाल, सियाराम तिवारी, सरफराज अहमद, शमशेर अली, चंद्रवंश यादव, किरण श्रीवास्तव, राजकुमार विश्वकर्मा आदि रहे। कार्यक्रम का संचालन जिला महासचिव प्रदीप मिश्रा ने किया।

Back to top button
error: Content is protected !!