fbpx
चंदौलीचुनाव 2024राज्य/जिला

Chandauli news: पूर्व विधायक मनोज सिंह ने चुनाव प्रेक्षक से की चंदौली डीएम की शिकायत, बीजेपी प्रत्याशी को अनुचित लाभ पहुंचाने का आरोप, नहीं हटाने पर बड़े आंदोलन की चेतावनी

पूर्व विधायक मनोज सिंह ने मुगलसराय रेलवे गेस्ट हाउस पहुंचकर चुनाव प्रेक्षक से मुलाकात की। पत्रक सौंपते हुए आरोप लगाया कि चंदौली डीएम बीजेपी प्रत्याशी को अनुचित लाभ पहुंचाने का प्रयास कर रहे हैं। मतदान कार्मिकों के प्रशिक्षक स्थल बाबा कीनाराम मेडिकल कालेज परिसर चंदौली में लगे बैनर पर जानबूझकर राजकीय शब्द जोड़ा गया है ताकि जनता को भ्रमित किया जा सके।
  • पूर्व विधायक मनोज सिंह ने चुनाव प्रेक्षक से की चंदौली डीएम की शिकायत
  • बीजेपी प्रत्याशी को अनुचित लाभ पहुंचाने का आरोप
  • डीएम को निर्वाचन कार्य से मुक्त करने की मांग

चंदौली। पूर्व विधायक व सपा के राष्ट्रीय सचिव मनोज सिंह डब्लू ने रविवार की शाम चुनाव प्रेक्षक से मिलकर चंदौली डीएम की शिकायत की। आरोप लगाया कि जिला निर्वाचन अधिकारी यानी डीएम बीजेपी प्रत्याशी को चुनाव में अनुचित लाभ पहुंचाने का प्रयास कर रहे हैं। इनके रहते पारदर्शितापूर्ण चुनाव करा पाना संभव नहीं है। यदि इन्हें निर्वाचन कार्य से नहीं हटाया नहीं गया तो सपा कार्यकर्ता सड़क पर उतरकर आंदोलन को बाध्य होंगे। पूर्व विधायक के अनुसार प्रेक्षक ने उचित कार्यवाही की बात कही है।

 

पूर्व विधायक मनोज सिंह ने मुगलसराय रेलवे गेस्ट हाउस पहुंचकर चुनाव प्रेक्षक से मुलाकात की। पत्रक सौंपते हुए आरोप लगाया कि चंदौली डीएम बीजेपी प्रत्याशी को अनुचित लाभ पहुंचाने का प्रयास कर रहे हैं। मतदान कार्मिकों के प्रशिक्षक स्थल बाबा कीनाराम मेडिकल कालेज परिसर चंदौली में लगे बैनर पर जानबूझकर राजकीय शब्द जोड़ा गया है ताकि जनता को भ्रमित किया जा सके। जबकि प्रशासन पहले ही कह चुका है कि यह मेडिकल कालेज स्वशासी है। इसके नाम को लेकर काफी राजनीति हो चुकी है। यही नहीं मतगणना स्थल नवीन मंडी परिसर को एक पखवारा पहले ही बंद कर दिया गया है व्यापारियों और आढ़तियों को बाहर कर दिया गया है। इसके पूर्व के चुनाव में ऐसा नहीं हुआ था। ऐसे में इस बात की प्रबल आशंका है कि नवीन मंडी में रखी ईवीएम के साथ छेड़छाड़ की जा सकती है। पूर्व विधायक ने मंडी को व्यापारियों के लिए खोलने मेडिकल कालेज का नाम दुरुस्त करने और डीएम को निर्वाचन कार्य से मुक्त करने की मांग की। चेतावनी दी कि यदि ऐसा नहीं किया गया तो सड़क पर उतरकर आंदोलन किया जाएगा।

Back to top button
error: Content is protected !!