fbpx
चंदौलीराजनीतिराज्य/जिला

चंदौलीः अचानक वाराणसी के रणबांकुरे मैदान पहुंच गए पूर्व विधायक मनोज, भाजपा विधायक पर लगाया गंभीर आरोप

चंदौली। सपा के राष्ट्रीय सचिव और सैयदराजा के पूर्व विधायक मनोज सिंह डब्लू वाराणसी में सेना भर्ती नहीं होने से खासे आहत हैं। आठ नवंबर को सेना भर्ती स्थगित होने के बाद मनोज सिंह सीधे वाराणसी के रणबांकुरे मैदान पहुंच गए। सेना की ओर से जारी पत्र का हवाला देते हुए कहा कि पिछले 20 सितंबर को पत्र जारी हुआ था कि आठ से 15 नवंबर तक वाराणसी के रणबांकुरे मैदान में भर्ती होगी। इसके बाद 24 सितंबर को सैयदराजा विधायक दिल्ली में रक्षा मंत्री से मिले। लोगों को बताया कि सेना भर्ती से सिलसिले में उन्होंने रक्षा मंत्री से मुलाकात की। बावजूद आठ नवंबर को भर्ती शुरू नहीं हुई। आरोप लगाया कि वे भर्ती कराने नहीं बल्कि स्थगित कराने के लिए ही रक्षामंत्री से मिले थे ताकि भर्ती का श्रेय पूर्व विधायक को न मिल जाए।

पूर्व विधायक ने कहा कि यह युवाओं के साथ मजाक है। भर्ती नहीं होने से चंदौली के बेरोजगार युवा काफी मायूस हैं। भर्ती नहीं हो रही है और युवाओं की उम्र भी समाप्त हो रही है। सैकड़ों युवा सेना भर्ती में प्रतिभाग करने से वंचित रह जाएंगे। कहा कि मैं युवाओं की लड़ाई जारी रखूंगा। सेना के अधिकारियों ने बताया है कि यदि आदेश आता है तो 15 दिन में भर्ती करा देंगे। पूर्व विधायक ने उच्चाधिकारियों से वार्ता करने की भी बात कही। कहा कि युवा निराश न हों। मेहनत जारी रखें। सेना भर्ती कराने के लिए मैं आखिरी दम तक प्रयास करूंगा। सपा की सरकार बनी तो अप्रैल में चंदौली में सेना भर्ती होगी।

On The Spot

खबरों के लिए केवल पूर्वांचल टाइम्स, अफवाहों के लिए कोई भी। हम पुष्ट खबरों को आप तक पहुंचाने के लिए संकल्पिक हैं।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!