fbpx
चंदौलीप्रशासन एवं पुलिस

चंदौली : डीएम ने गोवंश संरक्षण की समीक्षा की, कम टीकाकरण पर शहाबगंज, चकिया व धानापुर एसीबीओ को स्पष्टीकरण, लंपी बीमारी के प्रचार को गांवों में पोस्टर लगवाने का दिया निर्देश  

चंदौली। गोवंश संवर्धन व संरक्षण की जनपद स्तरीय बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में हुई। जिलाधिकारी ईशा दुहन ने गोवंशों के संरक्षण के साथ ही लंपी रोग से बचाव, सुरक्षा व टीकाकरण के प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने टीकाकरण में लक्ष्य से काफी पीछे रहने पर शहाबगंज, चकिया व धानापुर के एसीबीओ और बैठक में गायब रहने पर ईओ सैयदराजा को स्पष्टीकरण जारी किया। उन्होंने दीपावली तक हर हाल में टीकाकरण का लक्ष्य पूरा करने की हिदायत दी। लापरवाही पर सख्त कार्रवाई की चेतावनी दी।

 

उन्होंने कहा कि पशुओं की लंपी स्किन बीमारी (एलएसडी) टीकाकरण हेतु माइक्रोप्लान बनाकर दीपावली पर्व से पूर्व हर हाल में टीकाकरण पूर्ण करा लें। किसी भी हालत में एक भी पशु टीकाकार से वंचित न रहने पाए। चेताया कि यदि अगली बैठक में टीकाकरण में सुधार नहीं हुआ तो विभागीय कार्रवाई तय है। कहा कि अधिकारी टीकाकरण में तेजी लाने की रणनीति तैयार कर काम करें। लंपी की सामान्य जानकारी, बीमारी के लक्षण, बचाव की सलाह को प्रचारित-प्रसारित किया जाए। तहसीलों, ब्लाकों व गांवों में पोस्टर लगवाए जाएं। ताकि आमजन को इसके बारे में जानकारी हो सके। जिस गांव में टीकाकारण होना है, उस गांव के प्रधान को एक दिन पहले ही सूचित कर दिया जाए। ताकि अधिक से अधिक पशुपालकों तक जानकारी पहुंच सके। उन्होंने गोवंशो की प्रत्येक दशा में सुरक्षा एवं उनकी समुचित चिकित्सा हेतु समस्त पशु चिकित्सकों को निर्देशित किया। उन्होंने कहा कि जनपद स्तरीय अधिकारी भी भ्रमण करें। उप जिलाधिकारी तथा खण्ड विकास अधिकारी एक साथ नियमित भ्रमण करते हुए क्रियाशील रहें। किसी भी गोवंश की पोषण या चिकित्सा के अभाव में मृत्यु न होने पाए। स्वाभाविक मृत्यु होने की दशा में शव को नियमानुसार दफनाया दिया जाय। इस अवसर पर सीडीओ अजितेंद्र नारायण, सीवीओ डा. एके वैश्य के साथ ही सभी बीडीओ व एसीवीओ उपस्थित रहे।

Related Articles

Back to top button